srimandir playstore link
पेट की गैस का घरेलू उपचार

पेट की गैस का घरेलू उपचार

मिनटों में छू मंतर करें गैस की समस्या


पेट में गैस की समस्या इन दिनों आम हो गई है। पेट में गैस बनने की समस्या से बहुत से लोग परेशान हैं। पेट में गैस बनने से पेट फूलना, पेट में दर्द, अपच, कब्ज जैसी कई समस्याएं सामने आती है। इसके लिए अस्वस्थ्य आहार और सुस्त जीवनशैली मुख्य कारण हो सकता है। हालांकि, थोड़ी सी सावधानी और घरेलू उपचार से पेट में गैस की समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा पा सकते हैं।

पेट में गैस की समस्या कोई बड़ी बीमारी नहीं है, यह पाचन तंत्र में खराबी के कारण होती है। अगर सही समय पर इसका इलाज कर दिया जाए तो ये आसानी से ठीक हो जाता है। वहीं इसे इग्नोर करना कई बार भारी परेशानी बन सकता है। गैस के कारण कई बार पेट में इतना तेज दर्द होने लगता है कि वो असहनीय हो जाता है। पेट में गैस कई तरह की अन्य बीमारियों को जन्म दे सकती है। इसलिए हमेशा इसे ध्यान में रखते हुए शुरुआती दौर में ही इसका ठीक से इलाज कर लेना चाहिए।

पेट में गैस क्यों बनती है?

खाना खाने के बाद पाचन क्रिया के दौरान पेट में हाइड्रोजन, कार्बन डाइऑक्साइड और मीथेन गैस बनता है जो एसिडिटी या गैस का कारण बनता है। गैस से होने वाले रोग से बचने के लिए आयुर्वेदिक के साथ कुछ घरेलू उपाय किए जा सकते हैं। आयुर्वेद में वात, पित्त, कफ को शांत कर पेट में गैस की समस्या को ठीक करने का सही उपाय है। पेट की गैस से निजात पाने के लिए प्राथमिक तौर पर जौ, मूंग, दूध, आसव, मधु का सेवन काफी फायदेमंद होता है।

गैस बनने के लक्षण

पेट में गैस बनने पर पेट में दर्द होता है। इसके अलावा हमेशा पेट फूला-फूला सा लगता है। पेट में ऐंठन के साथ पेट भारी लगता है। कई बार चुभन के साथ दर्द और कभी-कभी उल्टी भी हो जाती है। पेट में गैस से सिर भारी-भारी सा लगता है और सिर में दर्द रहता है।

गैस बनने के कारण

पेट में गैस बनने के कई कारण हो सकते हैं। इसमें सबसे प्रमुख खानपान में अनियमितता और हेल्दी आहार की कमी हो सकती है। कई बार ज्यादा खाना खा लेने से भी गैस की समस्या सामने आती है। ज्यादा शराब पीना, मानसिक तनाव, एसिडिटी, बदहजमी, विषाक्त भोजन, सॉर्बिटोल युक्त पदार्थों के अधिक सेवन से भी गैस बनता है। ज्यादा देर तक खाली पेट रहने, जंक फूड या तली-भुनी चीजें का ज्यादा सेवन भी पेट में गैस बना सकती है। बीन्स, राजमा, छोले, लोबिया, मोठ, उड़द की दाल का ज्यादा सेवन भी पेट में गैस का कारण हो सकता है।

पेट में गैस बनने से रोकने के घरेलू उपाय

अगर खाना खाने के बाद एसिडिटी की समस्या आ रही है तो इसे रोकने के लिए आहार के साथ जीवन शैली में बदलाव लाने की जरूरत है। सबसे पहले पेट में गैस बनने से रोकने के लिए आहार में बदलाव करते हुए सेम, गोभी, प्याज जैसे खाद्य पदार्थों की मात्रा का ध्यान रखें। आप इन चीजों को खाना छोड़ सकते हैं, या कम कर सकते हैं। इसमें ये भी पता लगा सकते हैं कि इन चीजों में जिससे आपको नुकसान हो रहा है। उसके बाद उस खाद्य पदार्थ को खाना बंद कर सकते हैं। इसके साथ जीवनशैली में थोड़ा बदलाव करते हुए सुबह उठकर प्राणायाम और योगासन करना चाहिए। भोजन को अच्छी तरह से चबा-चबा कर आराम से खाना चाहिए। ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं और बासी भोजन से दूर रहें।

पेट में गैस की समस्या को दूर करने के घरेलू उपाय

पेट में गैस की समस्या से राहत पाने के लिए कुछ घरेलू नुस्खों को अपना सकते हैं। इससे काफी हद तक राहत मिलती है। कुछ घरेलू उपाय गैस की समस्या को हमेशा के लिए खत्म भी कर सकती है। हालांकि, इसे अच्छी तरह से और समय पर उपयोग करना होता है। तो आइए जानते हैं, पेट में गैस बनने की समस्या से निजात पाने के लिए घरेलू उपाय के बारे में…

अजवाइन

अजवाइन का सेवन पेट के लिए काफी फायदेमंद बताया गया है। पेट और आंतों में ऐंठन होने पर एक चम्मच अजवाइन में थोड़ा नमक मिलाकर गर्म पानी के साथ लेने पर लाभ मिलता है। हालांकि, बच्चों को अजवाइन न दें, बच्चों को अजवाइन के सेवन से थोड़ी दूर रखें।

हरड़

हरड़ को कुछ जगह पर स्थानीय भाषा में 'हर्रे' भी कहते हैं। ये पेट की कई तरह की परेशानियों में काफी फायदेमंद है। हरड़ से गैस का इलाज संभव है। ये पेट में बनने वाली वायु को जड़ से खत्म कर सकता है। गैस की समस्या होने पर हरड़ के चूर्ण को शहद के साथ मिलाकर खाने से राहत मिलती है।

काला नमक

अजवायन, जीरा, छोटी हरड़ और काला नमक बराबर मात्रा में पीसकर चूर्ण बना लें। इस चूर्ण को बड़े लोग 2 से 6 ग्राम खाने के तुरंत बाद पानी के साथ लें। इसे बच्चों को भी दे सकते हैं, लेकिन ध्यान रहे इसकी मात्रा कम रहे।

अदरक

अदरक पेट में बनने वाले गैस की समस्या से राहत दिला सकती है। इसके लिए अदरक के एक छोटे टुकड़े पर नमक छिड़क कर रख दें। अगले दिन से इसे दिन में कई बार खाएं। इससे गैस की समस्या से छुटकारा मिलेगा, साथ ही शरीर हल्का होना और भूख भी लगेगी।

काली मिर्च और सूखी अदरक

भोजन के एक घंटे बाद 1 चम्मच काली मिर्च, 1 चम्मच सूखी अदरक और 1 चम्मच इलायची के दानों को आधा चम्मच पानी के साथ मिला कर पीने से पेट में बनने वाली गैस से राहत मिलती है। आधा चम्मच सूखा अदरक पाउडर में एक चुटकी हींग और सेंधा नमक मिलाकर एक कप गर्म पानी के साथ पीने से भी गैस की समस्या से राहत मिलती है।

अदरक और नींबू

अदरक और नींबू से भी गैस की समस्या का इलाज संभव है। इसके लिए ताजा अदरक स्लाइस को नींबू के रस में भिगोकर भोजन के बाद चूसने से राहत मिलती है।

नींबू की शिकंजी

रोज सुबह खाली पेट नींबू की शिकंजी पीने से गैस की समस्या दूर होती है। ये दो महीने तक नियमित करना चाहिए, इससे खट्टी डकारें आना बंद हो जाता है।

टमाटर

भोजन के साथ सलाद के रूप में टमाटर का सेवन पेट के लिए काफी फायदेमंद होता है। टमाटर पर काला नमक डालकर खाना और भी फायदेमंद है। ध्यान रहे पथरी के रोगी को कच्चा टमाटर नहीं खाना चाहिए।

एलोवेरा

वैसे तो एलोवेरा का इस्तेमाल त्वचा की खूबसूरती बढ़ाने के लिए किया जाता है, लेकिन यह पेट से जुड़ी कई समस्याओं को भी खत्म करता है। विशेषज्ञों के मुताबिक एलोवेरा में लैक्सेटिव होता है जो कब्ज को दूर कर पेट में गैस को बनने से रोकता है।

नारियल पानी

नारियल पानी पेट में गैस बनने और अपच को दूर करने में काफी लाभदायक है। नारियल पानी डिहाइड्रेशन में भी दवा के रूप में काम करता है।

पेट में गैस की परेशानी को आम बीमारी ही माना जाता है, लेकिन कई बार इसके लक्षण जटिल हो जाते हैं। जिसके कारण परेशानियां बढ़ जाती है। ऐसे में हमें ध्यान रखना चाहिए कि एसिडिटी यानी गैस की समस्या ज्यादा दिनों तक न रहे। अगर घरेलू उपाय से ये ठीक न हो तो समस्या बढ़ने से पहले डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

Disclaimer: यह लेख सामान्य रूप से उपलब्ध जानकारी के आधार पर है। अगर इन घरेलू उपायों के बाद किसी तरह की परेशानी महसूस करते हैं, तो इसे बिल्कुल न करें और तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर से सम्पर्क करें। कोशिश करें कि ये सभी उपाय किसी जानकार शख्स के देख-रेख में करें।

,
background
background
background
background
srimandir
अपने फोन में स्थापित करें अपना मंदिर, अभी डाउनलोड करें।
© 2020 - 2022 FirstPrinciple AppsForBharat Pvt. Ltd.
facebookyoutubeinsta