स्वस्थ एवं तेजस्वी संतान प्राप्ति और माता की सुरक्षा के लिए राजराजेश्वरी त्रिपुरसुंदरी महापूजा
स्वस्थ एवं तेजस्वी संतान प्राप्ति और माता की सुरक्षा के लिए राजराजेश्वरी त्रिपुरसुंदरी महापूजा
स्वस्थ एवं तेजस्वी संतान प्राप्ति और माता की सुरक्षा के लिए राजराजेश्वरी त्रिपुरसुंदरी महापूजा
स्वस्थ एवं तेजस्वी संतान प्राप्ति और माता की सुरक्षा के लिए राजराजेश्वरी त्रिपुरसुंदरी महापूजा
स्वस्थ एवं तेजस्वी संतान प्राप्ति और माता की सुरक्षा के लिए राजराजेश्वरी त्रिपुरसुंदरी महापूजा
स्वस्थ एवं तेजस्वी संतान प्राप्ति और माता की सुरक्षा के लिए राजराजेश्वरी त्रिपुरसुंदरी महापूजा
स्वस्थ एवं तेजस्वी संतान प्राप्ति और माता की सुरक्षा के लिए राजराजेश्वरी त्रिपुरसुंदरी महापूजा

स्वस्थ एवं तेजस्वी संतान प्राप्ति और माता की सुरक्षा के लिए राजराजेश्वरी त्रिपुरसुंदरी महापूजा

temple venue
श्री बगलामुखी मंदिर, श्री कामाख्या तीर्थ क्षेत्र,गुवाहाटी
pooja date
Warning Infoइस पूजा की बुकिंग बंद हो गई है
srimandir devotees
srimandir devotees
srimandir devotees
srimandir devotees
srimandir devotees
srimandir devotees
srimandir devotees
अब तक1,50,000+भक्तोंश्री मंदिर द्वारा आयोजित पूजाओ में भाग ले चुके हैं

स्वस्थ एवं तेजस्वी संतान प्राप्ति और माता की सुरक्षा के लिए राजराजेश्वरी त्रिपुरसुंदरी महापूजा

जीवन में सभी प्रकार के सुख, स्वस्थ एवं तेजस्वी संतान प्राप्ति के साथ माता के कल्याण के लिए राजराजेश्वरी त्रिपुरसुंदरी महापूजा का आयोजन किया जा रहा है। दस महाविद्याओं में से एक हैं देवी त्रिपुरासुंदरी को सौम्य स्वरूप के कारण इनकी पूजा माता के कल्याण एवं मातृत्व की सुरक्षा के लिए की जाती है। गुवाहाटी में स्थित श्री बगलामुखी मंदिर, श्री कामाख्या तीर्थ क्षेत्र के आचार्यों द्वारा, दिनांक 23 फरवरी 2024, शुक्रवार को माघ शुक्ल चतुर्दशी पर राजराजेश्वरी त्रिपुरसुंदरी महापूजा का आयोजन किया गया है। श्री मंदिर के माध्यम से इस महायज्ञ में भाग लेकर देवी त्रिपुरसुंदरी का शुभाशीष पाएं।

पूजा लाभ

puja benefits
मातृत्व में सुख और शांति
माना जाता है कि इस पूजा को करने से मातृत्व में सुख व शांति का आशीष मिलता है, जिससे माता व बच्चे के बीच प्रेम और सजगता बनी रहती है। इस पूजा के प्रभाव से माता अपने शिशु के प्रति समर्पित रहती है और अपने मातृत्व समय का आनंद लेती है।
puja benefits
माता व संतान के संबंध में लाभकारी
त्रिपुर सुंदरी की ये पूजा से माता व संतान के बीच संबंध को मजबूत बनाती है। इसके प्रभाव से माता अपने संतान के साथ संबंध को सजग और समर्पित बनाती है, जिससे उन्हें एक विशेष भाव एवं स्नेहपूर्ण अनुभव होता है।
puja benefits
मातृत्व ऊर्जा और सुरक्षा के लिए
इस पूजा को करने से माता को ऊर्जा और स्वास्थ्य में सुधार का आशीष प्राप्त होता है, इससे मातृत्व को शक्ति मिलती है, जिससे गर्भवती महिलाओं स्वास्थ्य उत्तम रहता है। इससे मातृ शक्ति में वृद्धि होती है जिससे वह सुरक्षित महसूस करती है।
puja benefits
स्वस्थ एवं तेजस्वी संतान के लिए
त्रिपुरा सुंदरी पूजा के आशीर्वाद से जीवन में स्वस्थ और सुखी संतान की प्राप्ति होती है। यह पूजा न केवल आने वाले संतान के स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने में मदद करती है, बल्कि उसके जीवन को सुखमय बनाने का सामर्थ्य भी प्रदान करती है।
puja benefits
समृद्धि एवं कुल समृद्धि के लिए प्रार्थना
पूरे कुल की समृद्धि के लिए प्रार्थना इस पूजा से की जाती है। जो कि पूरे कुल के संपूर्ण समृद्धि विकास में सहायक होती है और सभी सदस्यों के सुख, समृद्धि एवं उत्तम भविष्य की कामना करने का अवसर प्रदान करती है।

पूजा प्रक्रिया

Number-0

पूजा चयन करें

4 विभिन्न पूजा पैकेज ऑप्शन से चयन करें।
Number-1

अर्पण जोड़ें

अपनी पूजा के साथ गौ सेवा, वस्त्र दान, दीप दान भी करें। पूजा के लिए भुगतान करें।
Number-2

संकल्प विवरण दर्ज करें

भुगतान के बाद, अपना नाम और गोत्र दर्ज करें।
Number-3

पूजा दिन

अनुभवी पंडितों द्वारा वैदिक प्रक्रिया के अनुसार पूजा होगी। आपको अपने WhatsApp नंबर पर अपडेट्स मिलेंगे।
Number-4

पूजा वीडियो एबं तीर्थ प्रसाद डिलीवरी

अपने पंजीकृत WhatsApp नंबर पर पूजा के 2-3 दिनों में पूजा वीडियो एबं आपके दिए गए पते पर 8-10 दिनों बाद तीर्थ प्रसाद प्राप्त करें ।

श्री बगलामुखी मंदिर,श्री कामाख्या तीर्थ क्षेत्र,गुवाहाटी

श्री बगलामुखी मंदिर,श्री कामाख्या तीर्थ क्षेत्र,गुवाहाटी
गुवाहाटी के शक्तिपीठ कामाख्या तीर्थक्षेत्र में माँ बगलामुखी का प्रख्यात मंदिर है। आदिशक्ति के दस महाविद्या में देवी बगलामुखी को आठवां रूप माना गया है। मां बगलामुखी आदि पराशक्ति के क्रोधित रूपों में से एक हैं। इनकी पूजा विशेष रूप से शत्रु भय से मुक्ति एवं शत्रुओं पर विजय प्राप्ति के लिए की जाती है। मां बगलामुखी की उत्पत्ति को लेकर कथा प्रचलित है, एक बार देवताओं और असुरों के बीच महायुद्ध हुआ था। जिसमें असुरों की ओर से मदनासुर जैसे शक्तिशाली असुर के नेतृत्व में असुर विजय प्राप्त करने लगे थें। तभी पराजय के भय से देवताओं ने माता रानी को याद किया।

देवताओं की प्रार्थना सुन, मां दुर्गा ने अपनी शक्ति से देवी बगलामुखी को प्रकट किया। अपनी अद्भुत शक्ति के साथ युद्धभूमि में मां बगलामुखी मदनासुर के सामने आईं और उसको भ्रमित कर, शक्तिहीन बना दिया। देवी बगलामुखी के कारण देवताओं ने जीत हासिल कर ब्रह्मांड में संतुलन को पुनः स्थापित किया। मान्यता है की जो भी भक्त माँ बगलामुखी के इस मंदिर में पूजा अर्चना करवाता है, उनकी सभी प्रकार की व्याधियां दूर होकर, जीवन में सुख, समृद्धि, खुशहाली एवं विजय प्राप्त करता है।

कैसा रहा श्री मंदिर पूजा सेवा का अनुभव?

क्या कहते हैं श्रद्धालु?
User review
User Image

जय राज यादव

दिल्ली
User review
User Image

रमेश चंद्र भट्ट

नागपुर
User review
User Image

अपर्णा मॉल

पुरी
User review
User Image

शिवराज डोभी

आगरा
User review
User Image

मुकुल राज

लखनऊ
User review
User Image

सुनील कुमार सैनी

चंडीगढ़
अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों